फाइनल से बाहर होने का दुख नहीं झेल पाए ऋषभ पंत, मैच के बाद दिया ये चौंकाने वाला बयान

शारजाह: कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के खिलाफ बेहद रोमांचक मुकाबले में जीत के करीब पहुंचकर पराजय का सामना करने वाले दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने उम्मीद जताई कि उनकी टीम अगले साल मजबूती से वापसी करेगी. पूरे सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन करके टॉप दो में रही दिल्ली को दूसरे क्वालीफायर में बुधवार को कोलकाता नाइट राइडर्स ने 3 विकेट से हरा दिया. कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को 136 रनों का आसान लक्ष्य देने के बावजूद गेंदबाजों ने दिल्ली को मैच में लौटाया था. 

हार के बाद भावुक हुए ऋषभ पंत 

आखिरी दो गेंदों में केकेआर को छह रन की जरूरत थी और दिल्ली के गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन हैट्रिक पर थे, लेकिन राहुल त्रिपाठी ने छक्का लगाकर KKR को जीत दिलाई. ऋषभ पंत ने कहा,‘मैच के बाद कुछ नहीं बदल सकता. हम अंतिम समय तक मैच में बने रहना चाहते थे. गेंदबाजों ने हमें मैच में लौटाया और बीच के ओवरों में शानदार गेंदबाजी की. बल्लेबाज स्ट्राइक रोटेट करने में नाकाम रहे.’ ऋषभ पंत ने कहा, ‘उम्मीद है कि अगले साल हम मजबूती से वापसी करेंगे. हमने पूरे टूर्नामेंट में अच्छा क्रिकेट खेला और एक दूसरे का साथ दिया. अगले साल और बेहतर खेलेंगे.’

फैंस से कही ये बात

दिल्ली के युवा कप्तान ऋषभ पंत इस हार के बाद बेहद निराश दिखे. सवालों के जवाब देते हुए उनके चेहरे पर मायूसी साफ देखी जा सकती थी. नम आंखें, झुकी नजरें और भरी आवाज के साथ वह फिर भी इस जिम्मेदारी को निभाते रहे. ऋषभ पंत ने फैंस से वादा किया कि अगले साल और मजबूती से टीम वापसी करेगी. ऋषभ पंत ने कहा, ‘अगर आप मुझसे पूछे कि मैं कैसा महसूस कर रहा हूं तो मेरे पास कोई जवाब नहीं है. छह विकेट गिरने के बाद हमें विश्वास था कि हम मैच को आगे ले जाएंगे, लेकिन हम नहीं कर पाए. उन्होंने मध्य ओवर्स में अच्छी गेंदबाजी की, हम स्ट्राइक को रोटेट नहीं कर पाए. इस सीजन में हमने अच्छा क्रिकेट खेला, जो भी हुआ हो हम सीखते हैं, उम्मीद है हम अगले सीजन अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’

नहीं चले दिल्ली के बल्लेबाज

बता दें कि टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए भेजे गए दिल्ली के बल्लेबाज धीमी पिच पर जूझते नजर आए जबकि केकेआर के गेंदबाजों ने सटीक लाइन और लैंग्थ से गेंदबाजी की. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 39 गेंद में 36 रन बनाए जबकि श्रेयस अय्यर 27 गेंद में 30 रन बनाकर नाबाद रहे. चक्रवर्ती ने 26 रन देकर दो विकेट लिये जबकि लॉकी फर्ग्युसन और शिवम मावी को एक-एक विकेट मिला. दिल्ली ने कोलकाता के सामने जीत के लिए 136 रनों का लक्ष्य रखा. एक समय ऐसा लगा रहा था कि कोलकाता की टीम आसानी से इस मैच को जीत जाएगी. आखिरी 25 गेंदों पर कोलकाता को जीत के लिए 13 रन चाहिए थे. तब तक कोलकाता ने केवल दो विकेट की गंवाए थे. 

राहुल त्रिपाठी ने छक्‍का लगाकर मैच का अंत किया

आवेश खान ने 17वें ओवर में शुभमन गिल को आउट किया और दो रन दिए. फिर 18वें ओवर में कैगिसो रबाडा ने दिनेश कार्तिक को शून्‍य पर आउट किया और एक रन दिया. इसके बाद अगले ओवर में एनरिक नॉर्टजे ने तीन रन दिए और शून्‍य पर इयोन मोर्गन को आउट किया. आखिरी ओवर में कोलकाता को जीत के लिए सात रन चाहिए थे. गेंदबाजी पर थे रविचंद्रन अश्विन. अश्विन ने दो गेंदों पर शाकिब अल हसन और सुनील नरेन को शून्‍य पर आउट कर हैट्रिक का मौका बनाया. आखिरी दो गेंद पर कोलकाता को जीत के लिए छह रन चाहिए थे. राहुल त्रिपाठी ने छक्‍का लगाकर मैच का अंत किया.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *